पथिक तू …


पथिक तू चलते रहना थक मत जाना 
पथिक रे मुखरित होना चुप मत रहना 
पथिक हाय क्यों तू गुमसुम डर मत है हम 
पथिक तू नहीं अकेला तुझे है समर्थन 
बस इतना कर दे आवाज़ उठा ले 
सोते हुए को झट जगा दे 
जो है भ्रष्टाचारी , हत्यारे और आतंकी 
स्थान नहीं ऐसों का हो प्रण ये जन जन की 
पथिक तू  बोल देश के तथाकथित उन भद्र जनों को 
भद्रता है क्या ये अन्याय देखकर चुप बैठे वो 
जमकर हल्ला बोले  विरोध जताए की है उनको परेशानी 
क्यों ये सहते रहते है और अधिक सहने की है ठानी 
भीरुता और कायरता द्योतक है निर्बल देश का 
पर हम है बलशाली त्याग दे मन की सब कायरता 
हमें तो करना है निर्माण एकीकृत भद्र समाज की 
जहां न हो स्थान इन हत्यारों , भ्रष्टों और आतंक की 
Advertisements

11 responses to this post.

  1. बहुत अच्छी रचना है …good wishes

    Reply

  2. thank u very much ana ji….u r creative as well as sensitive…

    Reply

  3. खूबसूरत जज्बात प्रकट करती रचना बधाई

    Reply

  4. पथिक तू चलते रहना थक मत जाना पथिक रे मुखरित होना चुप मत रहना पथिक हाय क्यों तू गुमसुम डर मत है हम पथिक तू नहीं अकेला तुझे है समर्थन.. hamara bhi hai samarthan… ek sandesh deti hai apki rachna… very nice…

    Reply

  5. चलने का नाम ही जिंदगी है…

    Reply

  6. बहुत सार्थक सन्देश देती प्रेरक रचना|धन्यवाद|

    Reply

  7. सुन्दर सन्देश देती हुई रचना

    Reply

  8. पथिक तू चलते रहना थक मत जाना पथिक रे मुखरित होना चुप मत रहना पथिक हाय क्यों तू गुमसुम डर मत है हम पथिक तू नहीं अकेला तुझे है समर्थन …………..nice

    Reply

  9. भीरुता और कायरता द्योतक है निर्बल देश का पर हम है बलशाली त्याग दे मन की सब कायरता हमें तो करना है निर्माण एकीकृत भद्र समाज की जहां न हो स्थान इन हत्यारों , भ्रष्टों और आतंक की …बहुत सार्थक सन्देश देती प्रेरक रचना..

    Reply

  10. भीरुता और कायरता द्योतक है निर्बल देश का पर हम है बलशाली त्याग दे मन की सब कायरता हमें तो करना है निर्माण एकीकृत भद्र समाज की जहां न हो स्थान इन हत्यारों , भ्रष्टों और आतंक की निःसंदेह

    Reply

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: